KOLKATA ODI ENGLAND BEAT INDIA BY 5 RUNS

Excerpt: The author is a sports critic. He narrates nicely England made 321 runs and India followed it to make clean sweep 3-3 but in vain, at last lost by 5 runs. (Reads: 45)

 

Kolkata ODI England Beat India by 5 Runs
स्थान: इडेन गार्डन, कोलकता |
दिन: रविवार |
तिथि: २२ जनवरी २०१७ |
अवसर: भारत और इंग्लैण्ड क्रिकेट टीम के बीच खिताबी मुकाबला |
आज का मैच थोड़ा अलग हटकर रहा , वो कहते हैं न कि हाथी मरता भी है तो सवा लाख कीमत होती है , इंग्लैण्ड सीरिज २-१ से गँवाकर भी आज के मैच में दमखम में किसी माने में इंडियन टीम से कम नहीं रही और ताबडतोड इंडियन गेंदबाज पर हावी होते हुए ३२१ रनों का विशाल स्कोर खड़ा कर दिया और एक तरह से चुनौती दे डाली |
जिस टीम ने तीन मैचों की श्रृंखला में दो – एक से पहले ही बढ़त हासिल कर ली हो , उस टीम के लिए ३२१ रन क्या माने रखता | पूरे आत्मविश्वास से लवरेज होकर टीम इंडिया मैदान पर उतरी , लेकिन सारा जोशोखरोश रफ्फूचक्कर हो गया जब इंडियन टीम ५ विकेट पर महज १७३ ही बना पाया |
अब तो ऐसा प्रतीत हुआ कि यह मैच इंडिया के हाथ से गया और स्वीप ओवर का सपना जैसे टूट कर विखर गया कांच की तरह | दर्शक सरोसामान समेटने में लग गए , अब घड़ी – दो घड़ी का निराशाजनक खेल ही तो बाकी है |
लेकिन जैसे ही जाधव एवं पांड्या ने पीच पर कदम रखा , दर्शकों को आशा की किरण दिखाई देने लगी , जब ये दोनों बल्लेबाजों ने बेहतरीन खेल का प्रदर्शन करते हुए आज के उदास खेल पर जान फूंक दी , चौकों छक्कों के बौछार होने लगी , दर्शक झूम उठे , नाच उठे , वाह ! वाह !! के उद्वोधन से ६५ हज़ार दर्शकों से खचाखच भरा हुआ इडेन गार्डन एकबारगी चहक उठा | खेल की दशा व दिशा बदलते ही लोगों के मायूस चेहरे फुल की तरह खिल उठे |
मैच में केदार जाधव एवं हार्दिक पांड्या की अभुतपूर्व साझेदारी १०३ गेंदों पर १०४ रनों की इतिहास रच डाली |
हार्दिक पांड्या ४३ गेंद पर ५६ रन बनाकर आऊट हो गए , जडेजा भी ६ गेंद पर १० रन बनाकर चलते बने | अश्विन जिनपर उम्मीदें टिकी हुयी थीं , वो भी तीन गेंद पर महज १ रन बनाकर पेवेलियन लौट गए |
विकेट एक के बाद एक गिरते चले गए , लेकिन केदार जाधव पर्वत की तरह टीके रहे और रनों की औषत को घटाते रहे |
अब पाशा ही पलट गया | दर्शक और इंडियन टीम को यकीन हो गया कि यह मैच भी उनकी झोली में आने ही वाली है | क्यों न हो पीच पर होनहार युवा खिलाड़ी केदार जाधव जो टिका हुआ था !
यह दुर्भाग्य ही कहिये कि जाधव वोक्स की गेंद पर बिलिंग्स द्वारा कैच लपक लिए गए और एक जीत का उगता हुआ सूर्य जैसे अस्ताचलगामी हो गया |
५० वें ओवर में जीत के लिए १६ रनों की जरूरत थी और जाधव ने क्रिस वोक्स की पहली गेंद पर चक्का और दुसरी गेंद पर चौका जड़ दिया तो जीत की उम्मीद जैसी बंध सी गए | इसी वक्त कप्तान विराट कोहली और पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी कंधे पर हाथ दिए इस रोमांचक खेल पर अपनी नज़र टिका दी , पर वो कहते हैं न कि “ वही होता है जो मंजूरे खुदा होता है ” , ४ गेंद पर ६ रन की जरूरत थी जीत के लिए , २ गेंद पर दुर्भाग्यवश कोई रन नहीं बन सका , तीसरी गेंद जाधव आऊट हो गए | अब एक गेंद पर जीत के लिए ६ रन चाहिए थी | उम्मीद की एक हल्की सी किरण दिखाई दे रही थी कि शायद भुनेश्वर छक्का जड़ कर इंडिया को क्लीन स्वीप दिलवा दे , लेकिन इतने दबाव में ऐसा होता है क्या !
मैं और मेरी पत्नी , जो बगल में बैठी थी, ने कह दिया , “ अब इंडिया हारा |”
मैंने उसे एक खेल का जिक्र किया कि इंडिया और पाकिस्तान का मैच शारजाह में कई दशकों पहले खेला जा रहा था , महज १ गेंद पर जीत के लिए पाकिस्तान टीम को ६ रन बनाने थे उस मैच का मैं चश्मडीद गवाह हूँ कि पाकिस्तान के खिलाड़ी ने छक्के जड़ कर वह मैच अपनी झोली में डाल ली थी , हो सकता है आज भी ऐसा ही हो इंडिया मैच जीत जाय , पर ऐसा न हुआ आख़री गेंद पर भुनेश्वर एक भी रन न बना सके , क्या किया जाय खुदाये ताला को यही मंजूर था |
खेल खत्म , पैसा हजाम !
अब एक नज़र उपलब्धियों पर:
इंग्लैण्ड बल्लेबाजी:
१. जेसन रॉय – ६५ ५६ १० १
२. बेयरस्टो – ५६ ६४ ५ १
३. बेनस्टॉक्स – ५७ ३९ ४ २
इंडिया:
१. केदार जाधव – ९० ७५ १२ १
२. हार्दिक पांड्या -५६ ४३ ४ २
३. विराट कोहली -५५ ६३ ८ –
इंग्लैण्ड कुल रन – ३२१
इंडिया कुल रन – ३१६
पुरस्कार:
१. मैं ऑफ सीरिज – केदार जाधव
२. मैं ऑफ मैच – हार्दिक पांड्या
रेकोर्ड जो बने:
१. कप्तान के तौर पर विराट कोहली ओ डी आई सबसे तेज १००० रन बनानेवाले क्रिकेटर बने |
२. जडेजा ने सेम बिलिंग्स की विकेट लेते ही १५० विकेट पूरे कर लिए |
३. इस सीरिज में २०९० रन बने जो अपने आप में एक रेकोर्ड है |
४. इडेन गार्डन में इंग्लैण्ड ने ओ डी आई में पहली जीत दर्ज की | इसके पहले इंग्लैण्ड इंडिया से २ मैच और आस्ट्रेलिया से १ मैच हार चुकी है |
मैच काफी रोमांचक रहा आशा के विपरीत और दर्शकों ही नहीं दोनों टीमों के खिलाड़ियों ने जी भरके लुत्फ़ उठाये |
यदि मैं यह कहूँ कि इंडिया के लिए यह मैच “ हार की जीत “ स्वरुप थी और इस खेल के हीरो रहे केदार जाधव जिन्होंने इस उदासीन खेल में जान फूँक दी
आगामी टी २० तीन खेल होंगे:
१. कानपुर में २६ जनवरी को संध्या ४.३० से
२. नागपुर में २९ जनवरी को संध्या ७ से और
३. बेंगलुरु में १ फरवरी को संध्या ७ से |
प्रिय पाठकों !
खेल हमारे जीवन का एक अभिन्न अंग है | खेलते रहिये यदि न तो, खेल से जुड़े रहिये और भरपूर आनंद उठाईये |
अलविदा ! फिर यहीं पर मुलाक़ात होगी |
जयहिंद !
लेखक: दुर्गा प्रसाद – खेल समीक्षक |
दिनांक: २३ जनवरी २०१७ , दिन: सोमवार |


About the Author

Recommended for you

Comments

Leave a Reply